बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ में क्यों पिछड़ गया बिहार

केंद्र सरकार ने नीतीश कुमार को फटकार लगाई है कि बेटियों की शिक्षा दर में कमी आई है केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने उन राज्य को आड़े हाथ लिया जिन का प्रदर्शन बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत अच्छा नहीं रहा है, इसके लिए बिहार सरकार पूर्ण रूप से जिम्मेवार है जिन्होंने मोदी सरकार के इस योजना को सही से लागू नहीं किया। अगर इस पर बात करें तो हरियाणा पंजाब और राजस्थान बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को अच्छी तरीका से लागू किया है। महिला व बाल विकास मंत्री ने बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के तहत कम लिंगानुपात वाले 244 जिला के जिलाओ अधिकारियों के साथ बैठक में यह टिप्पणियां की और साथ में कई जिलाधिकरियों का तबदला भी किया गया।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ में अव्वाय साबित हुए ये राज्य

हरियाणा, राजस्थान और पंजाब ने अब तक अच्छा काम किया है। मेनका गांधी आगे कहती है कि इन राज्यो की स्तिथि पहले बहुत ही खराब थी, तीनों राज्य ने पहले से बेहतर काम किया है। वैसे देखा जाए तो तीनों ऐसा राज हैं, जहां लिंगअनुपात बहुत ही खराब है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ में क्यों असफल हुआ बिहार

कश्मीर का इस मामले में रिकॉर्ड बहुत ही खराब ही रहा है। कश्मीर पर बोलते हुए मेनका गांधी कहीं की जब कोई राज्य या उसके लोग यह महसूस करते हैं कि वे युद्ध या वहां युद्ध का माहौल महसूस होता हैं। वैसे मैं इस तरह का अभियान सफल नहीं हो सकता।

फिर बिहार के रिकॉर्ड पर बोलते हुए मेनका गांधी कहती है कि यहां के लोग बेटियों के जन्म देने में संकोच करते हैं। और आगे मेनका गांधी कहती है कि बिहार में इसलिए यह अभियान असफल रहा क्योंकि कुछ जिलों में कोश नहीं पहुंचा।

 

और अपडेट के बारे में जानने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें

बिना गारंटी भारत सरकार दे रही 50 हजार रुपये से 10 लाख रुपये तक के लोन

बेरोजगारो को 24000 दे रही बिहार सरकार : आपको यकीन नही तो आगे पढ़ें

40 लाख रोजगार तैयार करने का मोदी सरकार का दावा

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *